Sunday, May 22, 2011

अंक - 5 चंदन वृक्ष / जितने दिन जिया / बाँटी सुगंध - (लक्ष्मीशंकर वाजपेयी),

हाइकु दर्पण के इस अंक में प्रस्तुत हैं सुप्रसिद्ध साहित्यकार लक्ष्मीशंकर वाजपेयी की हाइकु कविताएँ


चंदन वृक्ष
जितने दिन जिया
बाँटी सुगंध


'हाइकु क्या है' के अन्तर्गत कल्याणमल लोड़ा के हाइकु सम्बंधी विचार

No comments: